loading...

बहराइच। देशविरोधी व आतंकी गतिविधियों के कारण प्रतिबंधित इस्लामिक संगठन सिमी के लिए 300 युवाओं की भर्ती कर ली गई और पुलिस व खुफिया एजेंसियों को भनक तक नहीं लग सकी। क्लिनिक चलाने की आड़ में अलीगढ़ निवासी डॉ. एमएम शेख मुस्लिम युवाओं को सिमी में भर्ती करता रहा और किसी को कुछ पता नहीं चल सका।fhghhn

इसका खुलासा महसी क्षेत्र में हुआ है। यहां एक डॉक्टर क्लिनिक चलाने की आड़ में साल भर से सिमी के लिए काम कर रहा था। उसने अब तक लगभग 300 युवाओं को सिमी के संगठन में शामिल कर लिया है। आरोप है कि उसने पंचायत चुनाव के दौरान एक प्रत्याशी की भी जमकर मदद की।

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें