loading...

gabbar

loading...

अमज़द खान ने ‘गब्बर सिंह’ के रोल में ऐसा मील का पत्थर स्थापित किया जिसे वो खुद ही दोबारा कभी नहीं छू सके…

अमजद जक़ारिया खान जिसने अपने 20 साल के लंबे फिल्मी कैरियर में 130 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। नेता, अभिनेता, विलेन, बाप, दोस्त, भाई लगभग हर तरह के किरदारों को पर्दे पर जिया लेकिन अपने फिल्मी कैरियर में एक ऐसी भूमिका निभाई जिसने उन्हें अमर बना दिया। जी हाँ… हम बात कर रहे हैं 1975 में आई फिल्म ‘शोले’ के गब्बर सिंह की। गब्बर सिंह उनकी जिंदगी से ऐसा जुड़ा कि एक आम इंसान उन्हें गब्बर सिंह के नाम से ही जानने लगा। आज अमजद खान की पुण्यतिथि है।

यह भी पढ़े > पुण्यतिथि: मिसाइल मैन के बारे में ऐसी बातें जो शायद आप नहीं जानते होंगे!

फिल्म ‘जमानत’ का वो दृश्य याद आता है। इस फिल्म में भी अमजद खान ने विलेन की भूमिका निभाई थी। उसके एक सीन में जब अमजद खान को गिरफ्तार करके जेल में ले जाया जाता है तो वहाँ मौजूद कैदी भी चिल्लाने लगते हैं कि गब्बर आ गया। गब्बर का किरदार आम जनमानस के साथ-साथ फिल्मी जगत पर भी ऐसा हावी हुआ कि राजू मवानी ने तो ‘रामगढ़ के शोले’ नाम से फिल्म ही बना दी। इसके अलावा भी रियलिटी शोज और कॉमेडी शोज में गब्बर की नकल करते हुए लोगों को देखा जा सकता है। दरअसल, गब्बर का किरदार अमजद खान की जिंदगी का वो मील का पत्थर था जिसे वो खुद दुबारा कभी नहीं छू सके।

यह भी पढ़े > जानिए- क्या कारण हो सकता है कि रामदेव ने राजीव भाई को खत्म करवा दिया?

अगले पृष्ठ पर पढे व देखे 

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें