loading...

जयपुर : राजस्थान सरकार के ‘मुख्यमंत्री जल स्वालंबन’ अभियान की शुरुआत के साथ ही विवाद शुरू हो गया है. मुख्युमंत्री वसुंधरा राजे ने इस योजना की शुरुआत अपने निर्वाचन क्षेत्र झालावाड़ा से की. मुख्यमंत्री ने इस मौके पर व्यापारियों से इस योजना के लिये दान देने का आग्रह किया.

vasundhra-raje-580x395

अब जब सीएम ने आर्थिक‍ मदद की अपील की तो मिनटों में ही करोड़ों रुपये इकट्ठा कर लिए गए. इसलिए अब विपक्ष सीएम की अपील को मदद के नाम पर पैसों की उगाई बताया है. इस लोकतंत्र का मज़ाक करार दिया है.

वसुंधरा की अपील के बाद दानदाताओं की मर्जी गैर मर्जी जबरन पैसे के लिए खुले मंच पर हाँ भरवाई गई. इस तरह से करोड़ रुपया कुछ ही मिनटों में जुटाया गया. हुआ ये कि अगर किसी ने मंच से कहा कि वो योजना के लिए अपनी ओर से 1 लाख रूपए दे रहा है तो सीएम ने उससे कहा कि 5 लाख रुपये दे.

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें