loading...

isrile

loading...

नई दिल्ली। अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री कॉलिन पॉवल के लीक हुए ईमेल्‍स से एक के बाद एक कई खुलासे हो रहे हैं। हालिया खुलासा इस्राइल के परमाणु हथियारों और ईरान को लेकर है।

लीक के मुताबिक, इस्राइल के पास 200 परमाणु बम हैं और इन सभी का निशाना ईरान है। रिपोर्टों के मुताबिक, पॉवल ने पिछले साल अपने एक सहयोगी को भेजे गए ईमेल में इस्राइल के इन परमाणु हथियारों का जिक्र किया था। यह ईमेल हैकिंग ग्रुप डीसीलीक्‍स के हाथों लग गया था। गौर करने वाली बात यह है कि इस्राइल अपने परमाणु हथियारों से जुड़ी कोई भी जानकारी साझा नहीं करता है और इस मुद्दे पर उसकी नीति संदिग्‍ध है। इस्राइल ने कभी भी अपने परमाणु हथियारों की तादाद, उनकी मारक क्षमता और उनसे जुड़ी अन्‍य जानकारियां नहीं बताई हैं।
हालांकि, इस्राइल के कुछ पर्यवेक्षकों का मानना है कि इस देश के पास 400 के करीब परमाणु हथियार हैं। लेकिन कॉलिन पॉवल का आंकड़ा उनकी हैसियत और जानकारियों तक उनकी पहुंच के लिहाज से काफी सटीक मालूम पड़ता है। पॉवल ने अपने बिजनस पार्टनर और डेमोक्रैटिक डोनर जेफ्री लीड्स को यह मेल भेजा था। इसमें इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्‍याहू द्वारा अमेरिकी कांग्रेस में दिए गए उस भाषण का जिक्र था जिसमें नेतन्‍याहू ने ईरान के साथ परमाणु समझौते को लेकर अमेरिका को चेताया था।
इस मेल में पॉवल ने लिखा कि वार्ताकार वह नहीं पा सकते जो वे चाहते हैं। किसी भी तरह, ईरान अगर परमाणु हथियार बना भी लेता है तो वह उनमें से एक भी परमाणु हथियार का इस्‍तेमाल नहीं कर सकता है। तेहरान की सत्‍ता को यह पता है कि इस्राइल के पास 200 परमाणु हथियार हैं और उन सभी का निशाना ईरान है और हमारे पास तो हजारों हैं। जैसा कि अहमदीनेजाद (ईरान के पूर्व राष्‍ट्रपति) ने कहा था, अगर हमारे पास एक परमाणु बम हुआ भी तो हम उसका क्‍या करेंगे, उसको पोंछ-पोंछकर चमकाएंगे? मैंने सार्वजनिक तौर पर परमाणु बम और ईरान दोनों के बारे में बोला है। वे जिस चीज के बारे में सबसे ज्‍यादा चिंता करते हैं हम उसे उखाड़ फेकेंगे, और वह चीज है- सत्‍ता। इसके बाद वे कहां और कैसे टेस्‍ट (परमाणु परीक्षण) करेंगे?’
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें