loading...

l_aghori

उज्जैन। देश की महारत्न कंपनियों में से एक कोल इंडिया में कभी निदेशक के पद पर काम करने वाला आॅफिसर एक दिन सांसारिक जगत को त्यागकर तंत्र जगत की दुनिया अपना लेता है। कापालिक महाकाल भैरवानंद सरस्वती नाम का यह व्यक्ति अब महातांत्रिक है।

जो कपाल के कटोरे में पानी, चाय पीता है। आधी रात को पूजा-पाठ करता है। इनके वैभव से वैरग्य की ओर जाने की कहानी भी चौंकाने वाली है। भैरवानंद सरस्वती ऐसे तांत्रिक हैं, जो ग्लोबल पीस अवार्ट से सम्मानित हो चुके हैं। यह देश के राष्ट्रपति से भी सम्मानित हो चुके हैं।

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें