loading...

पेरिस शिखर वार्ता के पहले प्रधानमंत्री मोदी ने जलवायु परिवर्तन को दुनिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती माना है और उन्होंने साफ़ -सुथरी ऊर्जा के इस्तेमाल के लिए जो एक आक्रामक रुख दिखाया है। जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर शुरू से भारत का स्पष्ट रुख रहा है कि कार्बन उत्सर्जन के मामले में विकसित देश अपनी जिम्मेदारी ठीक से निभाएं और सभी देश विकास को नुकसान पहुंचाए बिना जलवायु परिवर्तन के ख़िलाफ़ पक्के इरादे के साथ काम करें। इसी क्रम में जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर भारत ने कार्बन उत्सर्जन में 33 से 35 फीसदी तक कटौती का स्पष्ट एलान कर दिया जो कि एक बड़ा कदम है।   Modi

आगे Next पर क्लिक कर पढे >> भारत द्वारा काबर्न उत्सर्जन में कटौती की एक बड़ी पहल

1 of 6
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें