loading...

maxresdefault (1)

loading...
कृपया ध्यान दे : यह बहुमूल्य जानकारी समाजहित में पहुचाने में हमारी मदद करे आपके एक मात्र Share करने से ये महत्वपूर्ण जानकारी किसी जरूरतमंद रोगी के लिए वरदान हो सकता है। इसलिए शेयर करना ना भूले।

 

मित्रो चाय के बारे मे सबसे पहली बात ये कि चाय जो है वो हमारे देश भारत का उत्पादन नहीं है ! अंग्रेज़ जब भारत आए थे तो अपने साथ चाय का पौधा लेकर आए थे ! और भारत के कुछ ऐसे स्थान जो अंग्रेज़ो के लिए अनुकूल (जहां ठंड बहुत होती है) वहाँ पहाड़ियो मे चाय के पोधे लगवाए और उसमे से चाय होने लगी !

 

तो अंग्रेज़ अपने साथ चाय लेकर आए भारत में कभी चाय हुई नहीं ! 1750 से पहले भारत मे कहीं भी चाय का नाम और निशान नहीं था ! ब्रिटिसर आए east india company लेकर तो उन्होने चाय के बागान लगाए ! और उन्होने ये अपने लिए लगाए !

 

ये खबर भी पढे > राजीव दीक्षित जी के समर्थक बुझाएंगे जनता की प्यास, ठंडे पानी के साथ मिलेगा गुड़ और चना

आगे पढे – चाय के बागान क्यूँ लगाए ???

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...