loading...

2015_8$largeimg23_Aug_2015_212747040

गुजरात में स्थानीय निकायों के महत्वपूर्ण चुनाव के लिए मतगणना शुरू हो चुकी है। बीजेपी ने शुरुआती रुझान में बढ़त बना ली है।

ताजा रुझान

अहमदाबाद:भाजपा को 72, कांग्रेस को 23 सीटों पर बढ़त
अहमदाबाद (192)
बीजेपी जीती- 20
बीजेपी लीड -44
कांग्रेस जीती- 08
कांग्रेस लीड-12

सूरत: भाजपा को 44, कांग्रेस को 36 सीटों पर बढत
सूरत (116 सीटें)
बीजेपी जीती- 4
बीजेपी लीड -45
कांग्रेस जीती- 01
कांग्रेस लीड- 34

वड़ोदरा: भाजपाको 18, कांग्रेस को 14 सीटों पर बढ़त
वडोदरा (76 सीटें)
बीजेपी जीती- 05
बीजेपी लीड -05
कांग्रेस जीती- 08
कांग्रेस लीड- 07

राजकोट:भाजपा को 24, कांग्रेस को 16 सीटों पर बढ़त
राजकोट(72)
बीजेपी जीती- 15
बीजेपी लीड -04
कांग्रेस जीती- 10
कांग्रेस लीड-04

जामनगरःभाजपा को 30, कांग्रेस को 4 सीटों पर बढ़त
जामनगर (64 सीटें)
बीजेपी जीती- 20
बीजेपी लीड -12
कांग्रेस जीती-04
कांग्रेस लीड- 04

भावनगर: बीजेपी को 25, कांग्रेस को 13 सीटों पर बढ़त

भावनगर (52 सीटें)
बीजेपी जीती- 15
बीजेपी लीड – 07
कांग्रेस जीती- 09
कांग्रेस लीड- 08

छह नगर निगमों के लिए मतदान 26 नवम्बर को हुआ था जबकि 31 जिला पंचायतों, 230 तालुका पंचायतों और 56 नगर पालिकाओं के लिए मतदान 29 नवम्बर को हुआ था। छह नगर निगमों में मात्र 45 प्रतिशत मतदान हुआ था लेकिन अन्य स्थानों पर यह 60 प्रतिशत से अधिक था।

इस चुनाव को बीजेपी और मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के लिए एक चुनौती के रूप में देखा जा रहा है क्योंकि यह पटेल आरक्षण आंदोलन के बाद हो रहा है। नरेंद्र मोदी की जगह आनंदीबेन के मुख्यमंत्री बनने के बाद यह पहला बड़ा चुनाव है।

सभी छह नगर‍ निगम पर बीजेपी का कब्जा था
पटेल समुदाय को ओबीसी कोटे में शामिल करने की मांग कर रहे पटेल नेताओं ने चुनाव से पहले समुदाय के सदस्यों से बीजेपी के खिलाफ और कांग्रेस को वोट करने की अपील की थी। वर्तमान समय में सभी छह नगर निगमों- अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर और भावनगर पर बीजेपी का नियंत्रण है। ग्रामीण एवं अर्धशहरी क्षेत्रों में अन्य स्थानीय निकायों में अधिकतर पर भी बीजेपी का नियंत्रण है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें