loading...

BSNL कांग्रेस के शासनकाल में घाटे में! एक और घोटाला हो सकता हैं उजागर!

loading...

नई दिल्ली – कोंग्रेश ने अपने दस वर्ष के कार्यकाल में जिस तरह से योजनाबद्ध तरीके से सरकारी दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) को वित्तीय घाटा पहुंचाया था, बीजेपी सरकार अब उसकी जांच में जाने की सोच रही है। सरकार इस बात की जांच करवाएगी कि वर्ष 2004 में 10 हजार करोड़ रुपये का मुनाफा कमाने वाली यह कंपनी किस तरह से वर्ष 2014 में 8,000 करोड़ रुपये का घाटा झेल रही थी। वैसे इस मामले में नया मोड़ यह आया है कि BSNL एक बार फिर मुनाफा कमाने की स्थिति में आ गई है। ऐसा पहली बार हुआ है कि ग्राहकों की संख्या बढ़ाने में इसने AIRTEL, VODAFONE और IDEA जैसी बड़ी दूरसंचार कंपनियों को पीछे छोड़ा है।

क्या कहते हैं नए पुराने आकडे जानिए आगे …. 

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें