loading...
भोपाल. देश को आजाद हुए 68 वर्ष बीत चुके हैं, लेकिन भोपाल के पास के इस गांव के हाल निराले हैं। कोई इस गांव में शादी नहीं करता। यदि किसी तरह सगाई हो जाए तो वह टूट जाती है।......
loading...
कहां है ये गांव….
-ये गांव है उमरबाड़ी। भोपाल जिले के बैरसिया विधानसभा क्षेत्र में आता है।
– यहां कई नौजवान तो शादी की उम्र पार कर चुके हैं।
– यहां के यंगस्टर्स को कोई अपनी बेटी देने को तैयार नहीं है।
– भूले-बिसरे इक्का-दुक्का लड़कों की सगाई हुई और बाद में टूट गई।
किस कारण नहीं देते यहां लड़की….
 – बिजली न होने के कारण तीसरी पीढ़ी भी अंधेरे में गुजर-बसर करने को मजबूर है।
– वैसे तो यहां पर प्राइमरी स्कूल है, जिसके बच्चे चिमनी और मोमबत्ती की रोशनी में ही पढ़ते हैं।
– अगर कोई बीमार हो जाए तो उसे खटिया में लिटाकर ही दो किमी दूर मेन रोड पर लाना पड़ता है।
– लड़कियों की एक समस्या यह भी है कि बिन बिजली के वे टीवी कैसे देखेंगी?
आने-जाने में ही काफी वक्त जाया
 गांव वालों की तीन पीढ़ी से एक ही मांग है पहुंच मार्ग और बिजली की। जो अब तक पूरी नहीं हो पाई है। 70 वर्षीय मोहर सिंह का कहना है कि हमारी तीन पीढ़ी ने तो गांव में बिजली देखी नहीं। अब चौथी पीढ़ी भी देख पाती है या नहीं इसमें संदेह है।
आंखें खराब हो रही हैं
नौवीं कक्षा में पढ़ने वाले मनोज और प्रशांत ने कहा कि उन्हें गांव से चार किमी दूर स्कूल जाने-आने में बड़ी परेशानी होती है। रात को बिजली नहीं होने से चिमनी और मोमबत्ती की रोशनी में पढ़ना पड़ता है, जिससे हमारी आंखें भी खराब हो रही हैं।
Next पर क्लिक कर आगे की स्लाइड्स में देखें गांव की फोटोज…
1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें