loading...

vending-machine

loading...

नई दिल्ली (16 मई): महज 14 साल की उम्र में इस युवक ने ऐसा कारनामा कर दिखा जो लोग तमाम उम्र भी नहीं कर पाते हैं। इस बच्चे ने प्राथमिक उपचार किट बांटने वाली वेंडिंग मशीन का ईजाद किया। इसी के साथ उसने करीब 200 करोड़ रुपए का ऑफर ठूकरा दिया है।

इस स्कूली छात्र को अमेरिका की एक राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा कंपनी ने यह ऑफर दिया था। कंपनी ने छात्र को 30 मिलियन यूएस डॉलर का ऑफर देते हुए अपने इस अविष्कार को बेचने के लिए कहा था, जिसे छात्र ने पलभर में ठूकरा दिया। दरअसल, अमेरिकी राज्य अलबामा के 14 साल के टेलर रोसेंथाल ने फर्स्ट एड किट बांटने वाली वेंडिंग मशीन बनाई है। इस मशीन को बेचने के लिए टेलर के सामने एक कंपनी ने 30 मिलियन यूएस डॉलर की पेशकश रखी लेकिन टेलर ने इस ऑफर को लेने से इनकार कर दिया।

इसलिए बनाई वेंडिंग मशीन – टेलर ने बेसबॉल के दौरान घायल होने वाले साथी बच्चों और किशोरों को देखा। इन्हें घायल देखकर उसके मन में ऐसी मशीन बनाने का आईडिया आया जिससे कटने, छाले या सनबर्न जैसी समस्याओं से निपटने के लिए दवाओं का किट उपलब्ध हो सके। इस आईडिया को साकार करते हुए टेलर ने वेंडिंग मशीन बनाते हुए इसका पेंटेंट भी करवा लिया।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें