loading...

‘बंगाल के अकाल’ को लेकर कई इतिहासकारों द्वारा अंततः सिद्ध हो चुका है कि, 1943 की सबसे भयावाह घटना के तौर पर जाना जाने वाला ‘बंगाल का अकाल’ कोई अकाल नहीं बल्कि ब्रिटेन के तानाशाह नेता विंस्टन चर्चिल द्वारा प्रायोजित की गयी मानवजनित आपदा थी, जिसमें ना ही मात्र 60 लाख से ज्यादा भारतीय मारे गये थे बल्कि कभी संपन्न रहा वो क्षेत्र आजतक विकास से कोसों दूर है,

churchill

loading...
इतिहासकार व रिसर्चर लेखिका मधुश्री मुखर्जी की किताब चर्चिल्स सीक्रेट वार के अनुसार द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान ब्रिटेन के प्रधानमंत्री रहे विंस्टन चर्चिल ने जानबूझकर लाखों भारतीयों को भूखे मरने दिया, भारतीयों के बारे में चर्चिल की सोच तथा उनके रवैये पर इस किताब में कई खुलासे किये गये हैं,

आगे Next पर पढ़े > वे चाहते हैं कि उन पर बमबारी होती…. 

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें