loading...

500 और 1000 के नोट बंद करने का फैसला जब से आया है। आम जनता अपने सारे काम को छोड़कर बैंक के बाहर लगी लंबी कतार में खड़ी नजर आ रही है। सरकार के इस फैसले का कोई समर्थन कर रहा है तो कोई विरोध।विपक्षी पार्टियों के विरोध के बाद अब बागपत के खाप पंचायत ने इस फैसले का विरोध किया है।source

loading...

खाप पंचायत ने एक बैठक कर नोटबंदी का विरोध कर निर्णय लिया 2017 में होने वाले चुनाव का बहिस्कार करेगी। साथ ही अन्य सभी पार्टियों का विरोध कर दूसरे गांवों में जाकर किसी भी पार्टी को वोट न देने की अपील करेगी।

आगे पढ़िए… क्यों लिया इतना बड़ा फैसला…

 

Click on Next Button For Next Slide

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें