loading...

पठानकोट आतंकी हमले पर सेना की गतिविधियों की गुप्त जानकारियां लाइव करके आतंकियों को उपलब्ध कराने को लेकर NDTV चैनल पर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा आगामी 9 नवम्बर के दिन पूरे 24 घंटे के लिए बैन लगाया गया है.. यह पहली बार है जब सरकार ने सेना की गुप्त जानकारियाँ सार्वजानिक करने वाली इस गैर जिम्मेदाराना पत्रकारिता के लिए किसी चैनल पर बैन लगाया है हालांकि इससे पहले एक बार जी न्यूज़ के वर्तमान संपादक सुधीर चौधरी के चैनल पर भी बैन लग चुका है जब वह लाइव इंडिया चैनल में थे..

NDTV के एंकर रवीश कुमार ने सरकार के फैसले के विरोध में दो मूक अभिनय कलाकारों के संग शुक्रवार को प्राइम टाइम शो किया था .. और “अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता” के नाम पर सरकार के इस फैसले को गलत साबित करने की कोशिश की..  शो के ऑन एयर होने के बाद से ही ‘रवीश कुमार’ और शो में कही गई ‘बागों में बहार है’ लाइन सोशल मीडिया पर टॉप ट्रेंड में है.

देखिये विडियो

लेकिन रविश कुमार की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता तब ख़त्म हो गई जब एक व्यक्ति अपनी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का प्रदर्शन करते हुए शांतिपूर्ण तरीके से पोस्टर हाँथ में लिए हुए NDTV ऑफिस के बाहर खड़ा था.. उस पोस्टर में रविश कुमार से उसे ट्विटर पर अनब्लाक करने की अपील की गई थी.. मतलब रविश कुमार ने उस व्यक्ति की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हनन करते हुए उसे ट्विटर पर ब्लाक कर दिया था.. शांतिपूर्ण प्रदर्शन करते हुए उस युवक के साथ NDTV के सुरक्षा अधिकारीयों द्वारा बुरी तरह धमकाते और धकियाते हुए बुरा बर्ताव किया तथा उसका पोस्टर भी फाड़ दिया ..

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें