loading...
धर्म नगरी हरिद्वार में एक साध्‍वी ने आश्रम के संचालक संत रघुनन्दन दास महाराज पर बलात्‍कार का आरोप लगाया है. साध्‍वी ने आरोप लगाया है कि आरोपी संत उसे जबरन गर्भपात कराने के लिए मजबूर कर रहा है. delhi-gang-rape copy
पीड़िता साध्वी ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि आश्रम में रहने वाले संत ने उसके साथ जबरदस्‍ती बलात्कार किया. उसने बताया कि विरोध करने पर उसे बंधक बनाकर रखा गया और मारपीट भी की गई. पीड़िता ने बताया कि संत उसे गर्भपात कराने के लिए मजबूर कर रहा है और वह किसी तरह उसके चंगुल से बचकर भागी है.
इस घटना के बाद से आरोपी संत रघुनन्दन दास महाराज फरार है और पुलिस उसकी दबिश पर छापेमारी कर रही है.
बताया जा रहा है कि साध्वी ने करीब दो साल पहले पंजाब से हरिद्वार के ब्रह्मपुरी स्थित रामजानकी आश्रम में आई थी. आश्रम के संचालक रघुनन्दन दास महाराज ने इसके साथ कई बार रेप किया. जब वह गर्भवती हो गई तो वह उस पर गर्भपात कराने का दबाव बनाने लगा.
साध्वी का आरोप है कि वह इसे आश्रम में बंधक बनाकर रखता है और मारपीट करता है. बुधरात रात को भी आरोपी संत ने उसके साथ मारपीट की. पीड़िता साध्‍वी ने बताया कि वह बच्चे को जन्‍म देना चाहती है और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रही है.
इलाके में रहने वाले लोगों का कहना है कि आरोपी संत ने कुछ साल पहले अपनी पत्नी की हत्या की थी, जिसके बाद वह जेल चला गया था. लोगों का कहना है कि आश्रम में गुंडे रहते हैं और प्रशासन को इसकी जांच कर आश्रम को सील करना चाहिए. आज भी पड़ोस में रहने वाले एक युवक ने बदहाल हालात में साध्वी को कोतवाली पहुंचाया.
वहीँ मामला कोतवाली पहुंचने के बाद सीओ सिटी का कहना है की मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है और शिकायत के आधार पर कार्रवाई की जायेगी.
आज हुए इस घिनोने खुलासे के बाद एक बार फिर संत और आश्रमों की तरफ उंगलियां उठनी शुरू हो गयी हैं. साध्वी के कोतवाली पहुंचने के बाद से आरोपी फरार है अब देखना ये होगा की पुलिस कबतक फरार आरोपी को गिरफ्तार कर पीड़िता को न्याय दिला पाती है.
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें