loading...

hjhjhj

loading...

नई दिल्ली। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का मुखिया बगदादी अब सिर्फ भागता नजर आएगा, जान बचाता नजर आएगा क्योंकि अब तक अमेरिकी-ब्रिटिश और फ्रेंच सेनाएं सिर्फ आसमान से हमले कर रहीं थीं, लेकिन पहली बार बगदादी के लिए असली खतरा पैदा हुआ है क्योंकि तमाम मुल्कों की स्पेशल फोर्स जमीन पर उतर आईं हैं।

सीएनएन के मुताबिक, अमेरिकी डेल्टा फोर्सेज को खासतौर से आईएसआईएस के हाई वैल्यू टारगेट को आईडेंटीफाई और न्यूट्रलाइज करने का मिशन दिया गया है। यानी इस्लामिक स्टेट के बड़े नेताओं को खोज कर मार गिराना। बताने की जरूरत नहीं कि सबसे हाई वैल्यू टारगेट है आईएसआईएस का खलीफा अबू बकर अल बगदादी। बगदादी जहां भी छुपा है उसे ठीक उसी तरह से मार गिराने की तैयारी है, जैसे पाकिस्तान की पनाह में छुपे ओसामा को पाकिस्तान में घुस कर मार गिराया गया। ओसामा को अमेरिकी सील कमांडो ने मारा था, लेकिन अब डेल्टा कमांडो के साथ ब्रिटिश, फ्रेंच कमांडो भी तैयार हैं। आसमान से बमबारी के बजाए अब जमीनी ऑपरेशन से बगदादी को मारने की तैयारी है।

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें