loading...

मथुरा। इसे बीजेपी के ‘मिशन यूपी 2017’ के लिए जमीन तैयार करने की कोशिश कहें या पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के ‘मन की बात’, लेकिन सोमवार को वृंदावन में जो कुछ उन्होंने कहा उससे राजनीतिक पारा और बढ़ गया है। शाह ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सच्चा हिंदू राष्ट्रवादी बताया।

एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक, शाह ने कहा कि मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने बनारस के घाट पर ‘आरती’ की और विकास की उनकी अवधारणा सिर्फ भौतिक ही नहीं बल्कि आध्यात्मिक भी है। नए बने प्रियाकांतजू मंदिर में लगभग दो लाख लोगों की भीड़ को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि मोदी देश की सच्ची संस्कृति और परंपराओं को बचाने में जुटे हुए हैं और यह सनातन धर्म के लिए गर्व की बात है। amit-shah

loading...
शाह, बांके बिहारी मंदिर के दौरे पर आए हुए थे जिसके बाद उन्होंने प्रियाकांतजू मंदिर का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा, ‘काशी में आरती कर मोदी ने लाखों लोगों के दिलों में यह सोच पैदा की कि वह देश की संस्कृति की रक्षा कर सकते हैं।

हालांकि, अपने छोटे से भाषण में शाह ने किसी तरह का सीधा राजनीतिक हमला नहीं किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी जहां जहां सत्ता में है, सरकारें इसे (संस्कृति की रक्षा) हासिल करने में जुटी हुई हैं। शाह ने इसके साथ ही कहा कि जितना साथ और होगा उतनी गति भी तेज होगी।

शाह ने प्रियाकांतजू मंदिर बनाए जाने पर भागवत कथा कहने वाले देवकीनंदन ठाकुर के काम की सराहना भी की। उन्होंने ‘राधे-राधे’ का नारा भी लगाया। शाह ने कहा- ‘भगवान कृष्ण का जन्मस्थान लाखों लोगों को प्रेरणा (इन्सपिरेशन) देने का काम करेगा। यहां से निकलने वाली ऊर्जा कई परेशानियों को खत्म कर देगी।’ शाह ने 125 गरीब लड़कियों को चेक और साइकिल भी बांटी। केंद्र के ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ प्रॉजेक्ट के तहत एक ट्रस्ट इन लड़कियों की देखभाल कर रहा है।

इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मथुरा से सांसद हेमामालिनी और छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी मौजूद थे।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें