loading...

Jasoda-ben-620x360
loading...
मुंबईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जसोदाबेन महाराष्ट्र में भाजपा सरकार के खिलाफ अनशन में शामिल हुईं । आजाद मैदान पर अपने भूख हड़ताल के दौरान जसोदाबेन ने मांग उठाई कि मानसून के मौसम में सरकार को झुग्गी-झोपड़ी नहीं तोड़नी चाहिए।

उनके अनुसार बरसात के मौसम में घर उजड़ने से लोगों को काफी परेशानी होती है। वह सामाजिक कार्यकर्ता पीटर पॉल की एनजीओ “गुड सामरी मिशन” की ओर से आयोजित एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम में हिस्सा ले रही थीं।

बकौल जसोदाबेन, “मैं मिशन के काम का समर्थन करने के लिए यहां आई हूं। मैं पुरजोर मांग करती हूं कि झुग्गी-झोपड़ियों को मानसून के मौसम में न गिराया जाए। यह उन लोगों पर अत्याचार है जो झुग्गी-झोपड़ी में जीवन बिताने के लिए बाध्य हैं।” पीएम की पत्नी इस एनजीओ के साथ पिछले वर्ष से जुड़ी हुई हैं।

अधिकारियों का कहना है कि जसोदाबेन के कार्यक्रम के बारे में स्थानीय पुलिस प्रशासन को कोई जानकारी नहीं थी। पांच एनएसजी कमांडो से घिरी हुईं जसोदाबेन जब आजाद मैदान स्थित अनशन स्थल पर पहुंची तो स्थानीय प्रशासन हतप्रभ हो गया। आननफानन में सुरक्षा के इंतजाम बढ़ाए गए। ध्यान रहे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शनिवार को मुंबई आ रहे हैं, जहां वह मेक इन इंडिया सप्ताह का उद्घाटन करेंगे।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें