loading...

khujali

loading...

नई दिल्लीः ‘आप’ विधायकों की हाल में धड़ाधड़  गिरफ्तारी हुई तो केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर भड़ास निकाली। उनसे हत्या की आशंका तक जताने के बाद अब केजरीवाल दस दिन ध्यान योग पर बैठने जा रहे।ताकि इधर बीच सियासत के फेर में बढ़ा टेंशन दूर हो सके। दिलोदिमाग के लिए सुकून ढूंढने वे नागपुर जाने की तैयारी कर रहे। यहां के मेडिटेशन सेंटर पर वह भगवान बुद्ध  के पसंदीदा विपश्यना ध्यान योग पर बैठेंगे। नागपुर जाने से पहले वह अपने डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया को दिल्ली सरकार की चाबी सौंपकर जाएंगे। यह जानकारी केजरीवाल के विश्वस्त सूत्रों ने दी है।

करेंगे विपश्यमना योग
मानसिक शांति के लिए की जाने वाली यह भारतीय योग की सबसे पुरानी व लोकप्रिय विधि  है। यह दूसरी दफा है, जब केजरीवाल विपश्यना ध्यान योग करने जा रहे। इससे पहले चुनाव होने के डेढ़ साल पहले भी मानसिक शांति के लिए केजरीवाल विपश्यमना योग करने गए थे। बता दें कि केजरीवाल गुणगांव के विश्व प्रसिद्ध विपश्यमना केंद्र के मेंबर भी हैं। मगर इस बार उन्होंने नागपुर के सेंटर को दस दिन के योग के लिए चुना है। एक पार्टी नेता का कहना है कि केजरीवाल इस समय बहुत कंफ्यूज रहने लगे हैं। वे क्लियर फैसले लेने नहीं ले पा रहे। जिसका असर रणनीतियों पर पड़ रहा है। इससे भी उनकी उलझनें बढ़ रहीं हैं।

संत बुद्ध ने इस पद्धति को देश में किया जिंदा

पहले यह भारतीय योग पद्धति विलुप्त हो गई थी। तकरीबन 2500 वर्ष पूर्व  क्षत्रित राजा से संत बने गौतम बुद्ध ने  इस पद्धति को दोबारा प्रयोग में लाकर फिर से प्रचलित कर दिया। इसके जरिये जीवन जीने की कला बेहतर तरीके से सीखी जाती है।

अगले पृष्ठ पर जानिए क्या है विपश्यना ध्यान योग

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें