loading...
afghan_1450427040
loading...
अफगानिस्तान की नई पार्लियामेंट बिल्डिंग। इसका कंस्ट्रक्शन वर्क इसी महीने पूरा हो जाएगा।
काबुल. अफगानिस्तान में नई पार्लियामेंट बिल्डिंग का काम इसी महीने पूरा हो जाएगा। भारत यह बिल्डिंग तैयार करवा रहा है। सूत्रों के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी इस बिल्डिंग का उद्घाटन करेंगे।
चार साल लेट हुआ प्रोजेक्ट
– भारतीय अफसरों के मुताबिक, नई पार्लियामेंट बिल्डिंग सभी फैसिलिटी के साथ दो हफ्तों में तैयार हो जाएगी।
– 2009 में शुरू हुए इस प्रोजेक्ट को दिसंबर 2011 में पूरा किया जाना था। लेकिन यह चार साल देरी से पूरा हुआ।
5 गुना ज्यादा बड़ी है नई बिल्डिंग
नई पार्लियामेंट बिल्डिंग मौजूदा बिल्डिंग से पांच गुना ज्यादा बड़ी है। यह 40.6 एकड़ क्षेत्र में फैली हुई है। भारत ने इस प्रोजेक्ट के लिए 710 करोड़ रुपए दिए हैं। इस बिल्डिंग को 4 सेक्शन में बांटा गया है। बिल्डिंग के ऊपर एक 32 मीटर डायमीटर वाला गुंबद बनाया गया है।
और क्या खास है अफगानिस्तान के नए पार्लियामेंट हाउस में..?

– पार्लियामेंट ब्लॉक में बेसमेंट को छोड़कर तीन फ्लोर होंगे।
– हाउस ऑफ पीपुल (लोकल लैंग्वेज में वोलेसी जिर्गा) में 256 लोग बैठ सकेंगे।
– ज्वाइंट सेशन में अंदर की लॉबी में 170 लोग बैठ सकेंगे।
– अंदर की लॉबी में 20 सीटें, प्रेस गैलरी और विजटर गैलरी बढ़ाने का प्लान।
– अपर हाउस (मेश्रानो जिर्गा) में 134 सीट्स की व्यवस्था।
– 20 लिफ्ट, 15 सीढ़ियां और 35 टॉयलेट्स होंगे।
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें