loading...

yuyuiui

loading...

सिंचाई के लिए मोटर चलवाने की झंझट है! बिजली की टेंशन, डीजल की झंझट, गैस के दाम और भी कई सारे लफड़े। अब सिंचाई को लेकर आप को भी मिल सकती है इन सभी झंझटों से फुर्सत। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा भला कैसे होगा। बिजना बिजली, डीजल या गैस के सिंचाई का पम्‍प कैसे चलेगा। बिल्कुल चलेगा। इसके लिए आपकी मदद की है पूर्व चंपारण के कल्याणपुर थाने में पदस्थापित जमादार मेहीलाल यादव ने।

ऐसे बनाया झूला पंप – मेहीलाल यादव ने पानी निकालने के लिए झूला पंप बनाया है। इस झूला पंप की खासियत ये है कि इसपर बच्‍चे झूला झूलते रहेंगे और पंप से पानी निकलता रहेगा। कुला मिलाकर बिना किसी खर्चे के इस झूला पंप से खेतों की सिंचाई की जा सकती है। इस पंप को लेकर बताया गया है कि इससे प्रति घंटे 10 हजार लीटर पानी निकाला जा सकता है। इससे लागत भी बेहद कम आएगी। 

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें