आत्महत्या से पहले 60 पन्नों के सुसाइड नोट में AP के पूर्व मुख्यमंत्री कलिखो पुल नें खोली थी कांग्रेस की पोल कहा..

कायदे से भारत की राजनीति में आज भूचाल होना चाहिए। इसलिए कि अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत कलिखो पुल के 60 पन्नों के सुसाइड नोट में देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस के कई नेताओं के नाम हैं। उन्होंने कई मशहूर वकीलों और जजों के नाम भी लिखे हैं, जिनकी ओर से उनसे संपर्क किया गया था और फैसले बदलने के लिए मोटी रकम मांगी गई थी। उन्होंने दिन, तारीख और समय के साथ पूरा विवरण लिखा है। 60 पन्नों का नोट हिंदी में लिखा गया है और टाइप किए गए हर पन्ने पर पुल ने बाकायदा दस्तखत किए हैं। इसलिए इसे बनाया हुआ यानि फर्जी दस्तावेज भी करार नहीं दिया जा सकता है।

जी हाँ इस सुसाइड नोट में कुछ ऐसा लिखा हुआ है जो कई लोगों को बेनकाब कर देगा..यह सुसाइड नोट भ्रष्टाचार के खिलाफ एक व्यक्ति का निजी चार्जशीट है..देश में हो रहे इसी भ्रष्टाचार नें पूर्व मुख्यमंत्री को आत्महत्या करने के लिए विवश किया था..इस नोट में अरुणाचल प्रदेश के कई बड़े नेताओं, सुप्रीम कोर्ट के सिटींग जज, कांग्रेस पार्टी के कई बड़े नेताओं के अलावा भी प्रदेश के कई सरकारी अधिकारीयों का कच्चा चिटठा लिखा हुआ है|

अगले पेज पर देखें वीडियो और जानिए कैसे कांग्रेस नें कलिखो पुल पर लगाये थे कैसे संगीन आरोप जिसकी वजह से..