loading...

saabudanaa

loading...

वैसे कई चीजों की अच्छाई जाने बिना ही कुछ तथाकथित देशभक्त websites द्वारा खाने-पीने के चीजों का दुष्प्रचार करने का एक प्रचलन (ट्रेंड) जैसा चल पड़ा है। वैसे इन तथाकथित लेखकों को आपने कभी देखा भी नहीं होगा ये केवल एयरकंडीशन कमरे में बैठकर आपके स्वास्थ्य के साथ मज़ाक के सिवाय कुछ ज्यादा नहीं करते है। इनको कंपनी विशेष से बड़ी रकम मिलती है ताकि ये आपको मानसिक भर्म पैदा करवा सके। कुछ दिनों से कई वैबसाइट वाले साबूदाने के गुण जाने बिना ही उसका दुष्प्रचार चालू कर चुके है। वैसे हो सकता है की मैगी बंद होने के बाद बाबा रामदेव ने अपना मैगी लॉन्च किया ठीक उसी तर्ज पर इनका भी इसमें कोई स्वार्थ हो? तभी ये लोग बिना सिंग-पैर की ऊटपटाँग बाते मनगढ़त तरीके से पोस्ट कर देते है…. इनकी वैबसाइटों को ज्यादा लोग विजिट करते है इसका मतलब ये नहीं होता की सच लिखने वालों का सच दबाया जा सकता है ?

मेरा इन तथाकथित पंडितों से सीधा सवाल है – आप अपनी जननी की कसम लेकर बताये की आपके घर में उपवास में आपकी माँ, दादी, दादा आदि ने कभी नहीं खाया हो ?

लेकिन हम आपको आज केवल साबूदाने के पॉज़िटिव गुण का सच ही बतायेंगे……

  • सफेद मोतियों की तरह दिखने वाला छोटे आकार  का साबूदान व्रत-उपवास में प्रमुख रूप से खाया जाता है। वैसे तो इसका प्रयोग केवल फलाहार के तौर पर किया जाता है, लेकिन इसके गुणों से अभी तक कई लोग अनजान ही है। अगर आप भी नहीं जानते इसके गुणों के बारे में तो जानिए साबूदाने के यह प्रमुख लाभ-
  1. त्वचा : साबूदाने का फेसमास्क बनाकर लागाने से चेहरे पर कसाव आता है, और झुर्रियां भी कम होती है। यह त्वचा में कसाव बनाए रखने के लिए भी फायदेमंद है।
  2. दस्त लगने पर : जब किसी कारण से पेट खराब होने पर दस्त या अतिसार की समस्या होती है, तो ऐसे में बगैर दूध डाले साबूदाने की बनी हुई खीर बेहद असरकारक साबित होती है और तुरंत आराम देती है।
  3. गर्मी पर नियंत्रण : एक शोध के अनुसार साबूदाना आपको तरोताजा रखने में मदद करता है, और इसे चावल के साथ प्रयोग किए जाने पर यह शरीर में बढ़ने वाली गर्मी को कम कर देता है।
  4. हड्डियां बने मजबूत : साबूदाने में कैल्शियम, आयरन, विटामिन-के भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाए रखने और अवश्यक लचीलेपन के लिए बहुत फायदेमंद होता है।
  5. वजन : जिन लोगों में ईटिंग डिसऑर्डर की समस्या होती है उनक वजन आसानी से नहीं बढ़ पाता। ऐसे में साबूदाना एक बेहतर विकलप होता है जा उसका वजन बढ़ाने में सहायक है।
  6. गर्भ के समय : साबूदाने में पाया जाने वाला फोलिक एसिड और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स गर्भावस्था के समय गर्भ में पल रहे शिशु के विकास में सहायक होता है।
  7. पेट की समस्याएं : पेट में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर साबूदाना खाना काफी लाभप्रद सिद्ध होता है, और यह पाचनक्रिया को ठीक कर गैस, अपच आदि समस्याओं में भी लाभ देता है।
  8. थकान : साबूदाना खाने से थकान कम होती है। यह थकान कम कर शरीर में आवश्यक उर्जा के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है।
  9. एनर्जी : साबूदाना कार्बोहाइड्रेट का एक अच्छा स्त्रोत है, जो शरीर में तुरंत और आवश्यक उर्जा देने में बेहद सहायक होता है।
  10. ब्लड प्रेशर : साबूदाने में पाया जाने वाल पोटेशियम रक्त संचार को बेहतर कर, उसे नियंत्रित करता है, जिससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। इसके अलावा यह मांसपेशियों के लिए भी फयदेमंद है।

साभार – डॉक्टर आचार्य दीपक

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें